IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane) – पूरी जानकारी हिंदी में।

विषय-सूची

IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane in Hindi)

इस पोस्ट में आप सब जानेंगे की “IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane)“, “IAS की तैयारी कैसे करें? (IAS ki Taiyari Kaise Kare)” आदि।

IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane)” देश में हर साल लाखों लोग सिविल सेवक बनने की उम्मीद में UPSC की सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा देते हैं।

ज्यादातर लोग UPSC के और पोस्ट जैसे की – “सिविल सर्विस एग्जाम (CSE), स्पेशल क्लास रेलवे प्रशिक्षण (SCRA), नेशनल डिफेंस एग्जाम (NDA)” आदि का एग्जाम नहीं देते है।

सबसे ज्यादा लोग UPSC में “इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस” (IAS) का परीक्षा देते है।

आमतौर पर हमारे देश में सिविल सेवाओं को IAS परीक्षा के रूप में जाना जाता है।

“IAS क्या है? (What is IAS in Hindi)” IAS भारत की सिविल सेवा में सबसे प्रतिष्ठित पद है।

IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane)
“IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane)” IAS बनने के लिए आपको IAS की परीक्षा को पास करना होगा। यह परीक्षा 3 चरणों में होती है। IAS परीक्षा हमारे देश में सबसे कठिन और प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक मानी जाती है।

इस पद की गरिमा और शक्ति के आधार पर ही इसके चयन की परीक्षा भी उसी के अनुसार तय की गई है।

ताकि केवल योग्य व्यक्ति ही इस पद तक पहुंच सके। कई उम्मीदवार इस पद पर चयनित होना चाहते हैं।

“IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane)” हर उम्मीदवार यही सोचता है की वह सबसे योग्य व्यक्ति है।

लेकिन केवल मेहनती और अनुशासित लोग ही इस पद तक पहुंच सकते हैं।

IAS बनने के लिए कई महीनों तक कड़ी मेहनत और लगन लगा कर पढाई करना पड़ता है।

“IAS क्या है? (What is IAS in Hindi)” संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ही सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन करता है।

यदि आप इस परीक्षा की प्रकृति और प्रक्रिया पर ध्यान देते है, तो इस परीक्षा को पास करना बहुत मुश्किल नहीं है।

लेकिन आप खुद को इसके लिए कितना केंद्रित रख सकते हैं। यह इस पर निर्भर करता है। यदि अपने जिन्दगी का मुख्य उद्देश्य IAS बनना ही बना रखा है।

तब आप इस पद के लिए सबसे योग्य व्यक्ति है। सबसे पहले आपको परीक्षा का प्रारूप को समझना होगा।

IAS का फुल फॉर्म क्या है? (IAS ka Full Form Kya Hota Hai)

IAS का फुल फॉर्म क्या है? (IAS ka Full Form Kya Hota Hai)
IAS का फुल फॉर्म क्या है? (IAS ka Full Form Kya Hota Hai)

IAS एक बहुत ही गौरवपूर्ण पद है। इसे ग्रामीण क्षेत्र के लोग अपनी भाषा में IAS अफसर कहते है।

वही शहरी क्षेत्र के लोग IAS Officer कहते है। यह सिविल सेवा परीक्षा की सबसे चर्चित पद में से एक है।

IAS की तैयारी करने वाले छात्रों को “IAS का फुल फॉर्म क्या है? (IAS ka Full Form Kya Hota Hai)” के बारे में जानना अति आवश्यक है।

“IAS का फुल फॉर्म इंग्लिश में (IAS ka Full Form in English)”, “IAS Ka English Matlab Kya Hota Hai”।


  • I – Indian
  • A – Administrative
  • S- Service

“IAS का फुल फॉर्म हिंदी में (IAS ka Full Form in Hindi)”


  • भारतीय
  • प्रशासनिक
  • सेवा

IAS का इतिहास (History of IAS in Hindi)

IAS का इतिहास (History of IAS in Hindi)
IAS का इतिहास (History of IAS in Hindi)
  • 1757 के बाद ईस्ट इंडिया कंपनी भारत के कुछ हिस्सों पर शासन करने लगी थी।
  • तब कंपनी ने उस क्षेत्र में नागरिक सेवाएँ (Covenanted Civil Services) (CCS) देना शुरु की।
  • 1857 के विद्रोह के बाद जब ईस्ट इंडिया कंपनी का शासन समाप्त हो गया।
  • तब ब्रिटिश क्राउन को सत्ता हस्तांतरित कर दी गई।
  • 1886 के बाद नागरिक सेवा को इंपीरियल सिविल सर्विस (शाही लोक सेवा) कहा जाने लगा।
  • इसे बाद में “भारतीय सिविल सेवा” (Indian Civil Service) कहा जाने लगा।
  • 1854 में, मैकाले समिति ने कंपनी से सिफारिश की कि इंपीरियल सिविल सर्विस में योग्यता के अधार पर नियुक्ति की जाए।
  • 1886 में, सर चार्ल्स उमरफर्स्टन ऐचिसन की अध्यक्षता में ऐचिसन आयोग ने सिफारिश की कि भारतीय भी सार्वजनिक सेवा में कार्यरत हो।
  • 1912 में भारतीयों को सेवा में शामिल करने के लिए इस्लिंगटन आयोग ने सुझाव दिया कि 25% उच्च पदों को भारतीयों को देना चाहिए।
  • इस्लिंगटन आयोग ने यह भी सिफारिश की कि उच्च पदों पर भर्ती भारत में और आंशिक रूप से इंग्लैंड में की जानी चाहिए।
  • 1922 से, Indian Civil Service परीक्षा भारत में आयोजित की गई थी।
  • भारत में संघ लोक सेवा आयोग 1 अक्टूबर 1926 को स्थापित किया गया था।
  • 1924 में अखिल भारतीय सेवाओं को केंद्रीय सुपीरियर सेवाओं के रूप में नामांकित किया गया था।
  • 1939 के बाद, यूरोपीय लोगों की अनुपलब्धता (Unavailability) के कारण सेवा में भारतीयों की संख्या में वृद्धि हुई।
  • स्वतंत्रता के बाद, ICS (Indian Civil Service) का नाम बदल कर भारतीय प्रशासनिक सेवा IAS (Indian Administrative Service) कर दिया गया।

आईएएस बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए? (IAS ke Liye Qualification in Hindi)

आईएएस बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए? (IAS ke Liye Qualification in Hindi)
आईएएस बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए? (IAS ke Liye Qualification in Hindi)

IAS बनने के लिए आपकी नागरिकता भारत, नेपाल या भूटान से होनी चाहिए। आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक (Graduate) होना आवश्यक है।

यदि आप स्नातक के अंतिम वर्ष में है या परिणाम का इंतज़ार कर रहे तब भी आप IAS एग्जाम में भाग दे सकते है।

इसमें यह आवश्यक नहीं है, कि आपके स्नातक में कितने प्रतिशत अंक आये है।

किसी भी विषय से स्नातक है, तो आप आईएएस की परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं।

IAS की मुख्य परीक्षा में भाग लेने से पहले आपको आवेदन पत्र के साथ न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की डिग्री लेना आवश्यक है।

IAS के लिए आयु सीमा (IAS ke Liye Age Limit in Hindi)

  • सामान्य वर्ग (General Category) के लिए आयु सीमा 21 वर्ष से 32 वर्ष तक रखी गई है।
  • OBC वर्ग के लिए आयु सीमा 21 वर्ष से 35 वर्ष रखी गयी है।
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लिए आयु सीमा 21 वर्ष से 37 वर्ष तक रखी गई है।
  • सभी शारीरिक रूप से अक्षम (Disabled) छात्रों के लिए आयु सीमा 21 वर्ष से 42 वर्ष है।

IAS में प्रयासों की आयु सीमा (Age Limit for Efforts in IAS)

सामान्य श्रेणी (General Category)32 वर्ष
OBC35 वर्ष (3 वर्ष की छूट)
SC/ST37 वर्ष (5 वर्ष की छूट)
आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग (Economically Backward Class)32 वर्ष (कोई छूट नहीं)
विकलांग (Disabled)42 वर्ष (10 वर्ष की छूट)

आईएएस की परीक्षा का आयोजन कौन करता है?

हर साल संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) सिविल सेवाओं की परीक्षा आयोजित करता है।

इस परीक्षा को क्रैक करने से आप IAS या IPS अधिकारी बन सकते है।

IAS का एग्जाम में उपस्थित होने के लिए न्यूनतम और अधिकतम आयु सीमा तय है।

यदि आपने अधिकतम आयु सीमा पार कर ली है तो आप IAS अधिकारी नहीं बन पाएंगे।

IAS के परीक्षा का चयन प्रक्रिया (IAS Exam Selection Process in Hindi)

IAS के परीक्षा का चयन प्रक्रिया (IAS Exam Selection Process in Hindi)
IAS के परीक्षा का चयन प्रक्रिया (IAS Exam Selection Process in Hindi)

“IAS कैसे बने?” IAS बनने के लिए आपको IAS परीक्षा पास करनी होगी। यह परीक्षा 3 चरणों में होती है। जो की इस प्रकार है।

  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination)
  • मुख्य परीक्षा (Main Examination)
  • साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक परीक्षा (Civil Services Preliminary Exam in Hindi)

IAS अधिकारी बनने के लिए यह परीक्षा का पहला चरण होता है। इस परीक्षा में दो प्रश्न पत्र होते हैं।

पहले प्रश्न पत्र में 200 अंक और दूसरे पेपर में 200 अंक पूछे जाते हैं।

दोनों पेपरों में ऑब्जेक्टिव (Objective) प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं।

इन दोनों प्रश्नों को पास करने के बाद, आपको मुख्य परीक्षा में शामिल किया जाता हैं।

प्रारंभिक परीक्षा में सफल उम्मीदवारों के अंक मुख्य परीक्षा में नहीं जोड़े जाते हैं और इसमें 1/3 नकारात्मक अंकन (Negative Marking) होता है।

मुख्य परीक्षा (Main Examination)

सिविल सेवा परीक्षा का दूसरा चरण मुख्य परीक्षा (Main Examination) है।

उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में पास होने के बाद ही वह मुख्य परीक्षा दे सकता है।

इसके लिए उम्मीदवारो को लगभग 2 से 3 महीने का समय दिया जाता है।

पूरी तरह से प्रारंभिक परीक्षा की तरह वस्तुनिष्ठ (Objective) प्रश्न पर आधारित होती है।

लेकिन उसके विपरीत मुख्य परीक्षा में अलग-अलग शब्द सीमा वाले वर्णात्मक प्रश्न पूछे जाते है।

उम्मीदवार को अपने शब्दों में उत्तर लिखना होता है।

इसमें सफल होने के लिए अच्छी लेखन शैली की आवश्यकता होती है।

IAS की परीक्षा में विषयों का चयन एक महत्वपूर्ण चरण होता है। इसी पर आपकी सफलता निर्धारित होती है।

प्रश्नपत्र – 1 (Question Paper – 1)निबंध (Essay)250
प्रश्नपत्र – 2 (Question Paper – 2)सामान्य अध्ययन 1 (संस्कृति और भारतीय विरासत, विश्व का इतिहास और भूगोल)250
प्रश्नपत्र – 3 (Question Paper – 3)सामान्य अध्ययन 2 (संविधान,प्रशासन, राजनीति, सामाजिक न्याय तथा अन्तर्राष्ट्रीय संबंध)250
प्रश्नपत्र – 4 (Question Paper – 4)सामान्य अध्ययन 3 (आर्थिक विकास,जैव विविधता, पर्यावरण, प्रौद्योगिकी,आपदा प्रबंधन)250
प्रश्नपत्र – 5 (Question Paper – 5)सामान्य अध्ययन 4 (अभिवृत्ति, सत्यनिष्ठा)250
प्रश्नपत्र – 6 (Question Paper – 6)वैकल्पिक विषय – पेपर 1250
प्रश्नपत्र – 7 (Question Paper – 7)वैकल्पिक विषय – पेपर 2250

आईएएस का इंटरव्यू कैसे होता है? (IAS ka Interview Kaise Hota Hai)

आईएएस का इंटरव्यू कैसे होता है? (IAS ka Interview Kaise Hota Hai)
आईएएस का इंटरव्यू कैसे होता है? (IAS ka Interview Kaise Hota Hai)

प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा में पास हुए उम्मीदवारों को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है।

यह परीक्षा 275 अंकों की होती है। इस परीक्षा में, उम्मीदवार के व्यक्तित्व और मानसिक क्षमता का निर्धारण (Assessment) किया जाता है।

जब उम्मीदवार साक्षात्कार में भी पास हो जाते है तो उन सबकी अंतिम सूचि तैयार की जाती है।

जो उम्मीदवार अच्छी रैंक से पास होते है। उन्हें मसूरी के राष्ट्रीय एकेडमी ऑफिस में भर्ती  किया जाता है।

जिसे अब लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी (LBSNAA) के नाम से जाना जाता है।

प्रशिक्षण पूरा होने के बाद, प्रशिक्षित उम्मीदवारों को केंद्र और राज्य सरकारों की उनकी संबंधित क्षमताओं की आवश्यकताओं के अनुसार पद मिलता है।

आईएएस का सिलेबस हिंदी में (IAS ka Syllabus in Hindi)

“IAS ka Syllabus in Hindi” IAS के सिलेबस को दो पेपर में बाटा गया है।

  1. IAS Syllabus For Paper- 1
  2. IAS Syllabus For Paper- 2

IAS Syllabus For Paper- 1

पेपर -1 में 200 मार्क्स के ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते है। जिसके लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है।

वर्तमान मामले (Current Affairs)राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाएं।
सामान्य विज्ञान (General Science)विज्ञान से जुड़े सभी तथ्य।
इतिहास (History)भारत का इतिहास (History of India)
पर्यावरण (Environment)जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता, पर्यावरण पारिस्थितिकी।
भारतीय राजनीति और शासन (Politics)संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज आदि।
विश्व और भारतीय भूगोल (Geography)अधिकारों के मुद्दे , भारत और दुनिया के आर्थिक व भौतिक भूगोल।
सामाजिक विकास और आर्थिक (Development and Economic)सामाजिक क्षेत्र की पहल, सतत विकास, समावेश, जनसांख्यकी और गरीबी।

IAS Syllabus For Paper- 2

इसमें भी 200 मार्क्स के ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते है। जिसके लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है।

  • समस्या को हल करना और निर्णय लेना (Problem Solving and Decision Making)
  • सामान्य मानसिक योग्यता (General Mental Ability)
  • समझ (Comprehension)
  • डेटा व्याख्या (Data Interpretation)
  • विश्लेषणात्मक क्षमता और तार्किक तर्क (Analytical Ability and Logical Reasoning)
  • संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल (Interpersonal Skills Including Communication Skills)

यह भी पढ़े –  SSC क्या है? (What is SSC in Hindi) – SSC की तैयारी कैसे करें?

संघ लोक सेवा आयोग क्या है? (UPSC Kya Hai)

UPSC क्या है?” संघ लोक सेवा आयोग भारत का केंद्रीय निकाय है।

यह निकाय या संस्था लगभग 24 पदों के लिए सिविल परीक्षा का आयोजन करवाता है।

जैसे की भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय वन सेवा (IFS), राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA), संयुक्त रक्षा सेवा (CDS), स्पेशल क्लास रेलवे अपरेंटिस (SCRA) आदि है।

संघ लोक सेवा आयोग कौन- कौन सी परीक्षा का आयोजन करता है?

  • सिविल सर्विस एग्जाम (CSE)
  • स्पेशल क्लास रेलवे प्रशिक्षण (SCRA)
  • इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस (IAS)
  • नेशनल डिफेंस एग्जाम (NDA)
  • इंजीनियरिंग सर्विसेज एग्जामिनेशन (ESE)
  • भारतीय वन सेवा परीक्षा (IFS)
  • नौ सैनिक अकादमी परीक्षा (INA)
  • संयुक्त चिकित्सा सेवा परीक्षा (CMSE)
  • संयुक्त रक्षा सेवा (CDS)
  • केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (CAPF)
  • सी आई एस एफ परीक्षा (CISF)
  • सम्मिलित रक्षा सेवा परीक्षा (CDS)

आईएएस क्या काम करता है? (IAS Officer ka Kya Kam Hota Hai)

सरकार की नीतियों को लागू करना और उनका पालन करवाना मुख्य रूप से आईएएस का काम होता है।

जिले में आईएएस जिला मजिस्ट्रेट, कलेक्टर या कमिश्नर हो सकता है।

इसके अलावा पद बढ़ने पर कैबिनेट सेक्रेटरी, जॉइंट सेक्रेटरी, अंडर सेक्रेटरी , डिप्टी सेक्रेटरी आदि पद भी मिलते हैं।

भारत में नौकरशाही का टॉप पद कैबिनेट सचिव का होता है जो संसद के प्रति जवाबदेह होता है।

इसके अलावा आईएएस ऑफिसर को सरकार के विभिन्न विभागों, कंपनियों, बोर्ड आदि का प्रमुख भी बनाया जाता है।

जैसे सीबीएसई और बिहार बोर्ड के चेयरमैन आईएएस ऑफिसर हैं।

IAS की तैयारी कैसे करें? (IAS ki Taiyari Kaise Kare)

IAS की तैयारी कैसे करें? (IAS ki Taiyari Kaise Kare)
IAS की तैयारी कैसे करें? (IAS ki Taiyari Kaise Kare)

12वी कक्षा पास करना

सबसे पहले, आपको 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करने की आवश्यकता है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने 12 वीं कक्षा किस विषय से पास की है। IAS बनने के लिए आपको बस किसी भी विषय से 12 वीं पास करना होगा।

बैचलर डिग्री प्राप्त करना (Getting a Bachelor Degree)

12 वीं कक्षा पास करने के बाद आपको किसी भी कॉलेज या विश्वविद्यालय से स्नातक करना होगा। आप किसी भी विषय को मुख्य विषय (Main Topic) रख कर आप अपना स्नातक डिग्री ले सकते है।

UPSC का एग्जाम देना (UPSC Exam)

स्नातक के बाद आपको UPSC की परीक्षा के लिए आवेदन करना होता है। आप स्नातक के अंतिम वर्ष में भी UPSC की परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। IAS, IPS, IRS और IFS आदि की परीक्षा देने के लिए सबसे पहले UPSC की परीक्षा पास करनी होती है।

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

UPSC की परीक्षा के लिए प्रथम चरण में Preliminary परीक्षा है। इसमें 200 -200 अंक की दो परीक्षाएं होती हैं। जिनमें वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते हैं।अगले चरण में जाने के लिये आपको इस परीक्षा को निकालना होगा।

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

Preliminary Exam देने के बाद Main Exam उत्तीर्ण करना आवश्यक है। इसमें 9 परीक्षा होती हैं। ये सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है। इसमें ज्यादातर लोग असफल हो जाते हैं। इसे उत्तीर्ण करने के लिए कड़ी मेहनत की जरूरत होती है।

साक्षात्कार (Interview)

Preliminary Exam और Main परीक्षा पास करने के बाद इंटरव्यू राउंड आता है। यह 45 मिनट का होता है। इंटरव्यू में बहुत ही कठिन प्रश्न किये जाते हैं। इंटरव्यू के अंक भी जोड़े जाते है। इंटरव्यू के हिसाब से रैंक तय की जाती है।

IAS के प्रश्न उत्तर (IAS FAQ in Hindi)

प्रश्न- IAS के मॉडल में कब बदलाव किया गया?

उत्तर- भारतीय प्रशासनिक सेवा के वर्तमान मॉडल को स्वतंत्रता के बाद का रूप दिया गया है।

प्रश्न- IAS में शामिल होने वाले पहले भारतीय कौन थे?

उत्तर- सत्येंद्रनाथ टैगोर।

प्रश्न- IAS अधिकारी कैबिनेट में किस पद तक पहुँच सकता है?

उत्तर- सचिव के उच्चतम पद तक पहुँच सकता है।

प्रश्न- कैबिनेट सचिव के पद पर पहुंचने वाले पहले IAS अधिकारी कौन थे?

उत्तर- आर पिल्लई।

प्रश्न- भारत में पहली महिला भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी कौन थी?

उत्तर- अन्ना जॉर्ज मल्होत्रा।

इन्हें भी पढ़े –

निष्कर्ष (Conclusion)

मैं आशा करती हूं की “IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane)” पर यह पोस्ट आपको पसंद आया होगा।

अगर आपको “IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane)” पर पोस्ट अच्छा लगा तो अपने दोस्तों और सोसल मीडिया पर शेयर जरुर करे।

अगर आपको “IAS कैसे बने? (IAS Kaise Bane)” को समझने में कोई भी समस्या हो रही है तो आप अपने सवालों को कमेंट करें।

हमारी टीम आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द देगी।

Karuna Tiwari is an Indian journalist, author, and entrepreneur. She regularly writes useful content on this blog. If you like her articles then you can share this blog on social media with your friends. If you see something that doesn't look right, contact us!

Leave a Comment

error: DMCA Protected !!
0 Shares
Share
Tweet
Pin
Share